Biggest blogging mistakes in hindi

क्या आप भी एक Blogger है और हाल ही में आपने अपना ब्लॉग शुरू किया है?

तो ऐसे में हर ब्लॉगर अपने सुरुवाती दिनों में कुछ ऐसी गलतियाँ करता है। जिससे उसे blogging में सफलता मिलने में काफी देर लगती है।

तो आज हम biggest blogging mistakes in hindi के बारे में जानेंगे। और यह भी बात करेंगे की आप उनका हल कैसे कर सकते है।

हर एक blogger अपने सुरुवाती दिनों में बहुत सारी गलतियां करता है। जाहिर है उन्हें ब्लॉग्गिंग और seo के बारे में basic जानकारी ही होती है और बिना practice के कोई भी expert नहीं बनता है।

  1. कीवर्ड रिसर्च नहीं करना।

कीवर्ड रिसर्च नहीं करना।

लोग ब्लॉग बनाने के बाद अपने ब्लॉग का अच्छे से design करते है अच्छे आर्टिकल्स लिखते है और फिर आर्टिकल्स डालते रहते है इस इंतज़ार में की ज्यादा आर्टिकल्स होंगे तो ब्लॉग पर ज्यादा traffic आएगा।

लेकिन अक्सर ऐसा होता नहीं है। क्यों की लोग आपके ब्लॉग पर तभी आएंगे जब वो गूगल में रैंक करेगा और अगर आपने अच्छे से कीवर्ड रिसर्च नहीं किया और आप high competitive keyword पर आर्टिकल्स लिख रहे तो आपका ब्लॉग कभी नहीं रैंक करेगा।

और ये सबसे बड़ी समस्या है नये ब्लॉगर में की वो अच्छे से कवर्ड रीसर्च नहीं करते है और अपने मन से किसी भी कीवर्ड पर आर्टिकल्स लिख देते है।

2 Thin content

इसका मतलब होता है काम words के आर्टिकल्स लिखना । चुकीं गूगल की policy के अनुसार आपके ब्लॉग में कमसे कम 600+ वर्ड्स के आर्टिकल्स होनर चाहिए।

तो लोग उतने या उससे भी कम वर्ड्स की आर्टिकल्स लिखते है।

क्यों की उन्हें लगता है इतना लिखन काफी है। लेकिन ये सही नहीं है आज से लगभग 4 साल पहले ऐसा होता था और आर्टिकल्स रैंक भी करते थे।

लेकिन आज के समय में प्रतिस्पर्धा काफी बढ़ गया है अगर आओको गूगलर में अपनी ब्लॉग की अछू पहचान बनानी है तो आपको कमसे कम 1000 वर्ड्स के आर्टिकल्स लिखने चाहिए।

अब ये आपके टॉपिक के अनुसार भी निर्भर करता है। लेकिन मैं आपको सलाह दूंगा की अगर आप ब्लॉग्गिंग कर रहे है तो आप  1000 या उससे अधिक शब्दों का पोस्ट लिखें। ऐसा करने से आपकी जल्दि रैंक कर सकता है।

बहुत सारी catagory बनाना

जी हां ये भी एक blogging mistake ही है जो बहुत सारे लोग करते है। लोग अक्सर बहुत सारी कैटेगरी बना लेते है और फिर सबमे एक एक करके artcles लिखते है।

अब इससे होता ये है कि गूगल में आपके Empty खली कैटेगरी इंडेक्स होने लगते है जिससे गूगल आपको कंटेंट पालिसी का एरर भी देता है। तो इस स्थिति से बचने के लिए आप एक एक catagory बनाये उसमे अच्छे आर्टिकल्स पब्लिश करें।

उसके बाद दूसरे कैटेगरी में काम सुरु करें। ऐसा करने से गूगल में कभी भी आपके empty catagory इंडेक्स नहीं रहेंगे और आपके ब्लॉग का गूगल के नजर में भी काफी अच्छा प्रभाव पड़ेगा।

Copied content publish करना

वैसे तो ये एक बहुत ही common बात है लेकिन कुछ लोगो को नहीं पता होता है या वो जल्दी रिजल्ट पाने के चक्कर में काम मेहनत करके अपने ब्लॉग को grow करना चाहते है।

जिसके लिए वो दूसरी website से कुछ कुछ लाइन कॉपी करके आपने ब्लॉग में लिख देते है । ऐसा आपको कभी भी नाही करना चाहिए ऐसा करने से आपके ब्लॉग पर copyrighted content या फिर Duplicate  contenet का issue आ सकता है।

और अगर आप ऐसा कर रहे हो तो कुछ दिन में Google आपके ब्लॉग को नजरअंदाज करने लगेगा फिर आप चाहे कितने भी अच्छे article लिखो आप कभी रैंक नहीं कर पाओगे।

तो इसलिए हमेसा खुदसे आर्टिकल लिखे अपने अंदाज में लिखे।

हालांकि आप दूसरे आर्टिकल को पढ़कर उनसे आईडिया ले सकते है लेकिन आपको लिखना खुदसे चाहिए।

Hey there, I am Deepak kumar, a Digital Entrepreneur from India. On the mission to help youngsters to build their career in Blogging. So I’m here to help you build and grow a successful money-making blog.

Leave a Comment

error: Content is protected !!