MP3 और MP4 Full का Form क्या होता है? | MP3 MP4 Full form

जब भी हम अपने फोन में गाने सुनते हैं या वीडियो देखते हैं तो हमें MP3 & MP4 तरह के शब्द अवश्य ही देखने को मिलते हैं लेकिन क्या आपने कभी सोचा है MP3 MP4 का full form क्या होता है? MP3 & MP4 का इस्तेमाल कैसे और कहाँ से शुरू हुआ?

अधिकतम लोगों का जवाब ना ही होगा। ज्यादातर लोग ऐसे छोटे-मोटे शब्दों पर ध्यान देने में दिलचस्पी नहीं दिखाते लेकिन अगर आपको टेक्नोलॉजी से जुड़े ऐसे चीजों के बारे में पढ़ने में दिलचस्पी है तो आप सही जगह पर आए हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम विस्तार से चर्चा करेंगे MP3 & MP4 Full Form के बारे में और यह भी देखेंगे कि MPEG Kya Hai तथा इसके कितने और कौन-कौन से प्रकार हैं? इस आर्टिकल से आपको MP3 और MP4 से जुड़े सारे प्रश्न के उत्तर मिल जाएंगे।

MP3 क्या है? | MP3 Full Form in Hindi

हर किस्म के फाइल का एक्सटेंशन होता है जिस में हम उस फाइल को सेव करते हैं जैसे कि डॉक्यूमेंट फाइल का एक्सटेंशन .Txt होता है। बिल्कुल इसी तरह से किसी भी ऑडियो की जो फाइल होती है उनका एक्सटेंशन MP3 होता है यानी के सौंग्स और म्यूजिक की फाइल को MP3 एक्सटेंशन में स्टोर किया जाता है।

MP शब्द आया है MPEG से जिसका फुल फॉर्म है Moving Picture Experts group। MP3 MPEG Layer 3 का ही एक रूप है जिसके द्वारा हम ऑडियो फाइल को store करते हैं। अधिकतम स्मार्टफोन ऑडियो के लिए यही फॉर्मेट सपोर्ट करते हैं इसलिए आपको ऑडियो फाइल हमेशा इसी एक्सटेंशन में मिलेगी।

MPEG क्या होता है?

MPEG एक ऐसा फॉर्मेट है जिसके अंदर हम किसी भी तरह की फाइल्स को सेव कर सकते हैं। MPEG का फुल फॉर्म Moving Pictures Expert Group है। यह International Organization of Standardization (ISO) के अंतर्गत कार्य करते हैं। Audio, Video तथा Graphics की कोडिंग MPEG के तहत ही होती है।

MPEG अपने नए और एडवांस वर्जन को हर साल लाता रहता है जिससे हमें ऑडियो और वीडियो के बेस्ट क्वालिटी की फाइल मिले। MPEG का लेटेस्ट वर्जन MPEG 21 है।

1K 1M और 1M का मतलब क्या होता है?

अब हम MPEG के हर एक वर्जन के बारे में विस्तार से जानेंगे-

MPEG 1- यह MPEG का सबसे पहला वर्जन है जिसे ऑडियो और वीडियो फाइल के कंप्रेशन के लिए बनाया गया था। इसका इस्तेमाल Video CDs, Digital Cable, Satellite TVs, Digital Audio Broadcasting में किया जाता था। इसमें हमें 352 by 240 की Resolution देखने को मिलेगी 30 FPS की स्पीड से। MPEG का यह वर्जन 1993 में आया था। MPEG के इस फॉर्मेट में ऑडियो और वीडियो की क्वालिटी इतनी अच्छी नहीं आती थी जिसकी वजह से MPEG का दूसरा फॉर्मेट मार्केट में लाया गया।

MPEG 2- यह MPEG 1 का एडवांस वर्जन है। MPEG के इस वर्जन में Resolution को 720 by 480 और 1280 by 720 कर दिया गया था और 60 FPS की स्पीड दी गई थी जिसका इस्तेमाल टेलीविजन में किया जाता था। MPEG 2 1995 में लांच किया गया था। अधिकतम तौर पर इसका इस्तेमाल DVD ROMS में किया जाता था।

MPEG 3- MPEG 3 को layer 3 के नाम से भी जाना जाता है। MPEG 3 के इस वर्जन को किसी और मकसद से बनाया गया था लेकिन बाद में इसका इस्तेमाल ऑडियो कंप्रेशन के लिए होने लगा। ऐसा कहते हैं कि इसका इस्तेमाल HDTV में होना था लेकिन इसकी जगह पर MPEG 2 का इस्तेमाल किया गया HDTV में। इसके बाद भी MPEG 3 का यह वर्जन काफी पॉपुलर हुआ।

MPEG 4- MPEG 4 को ISO द्वारा 1998 में लांच किया गया था। MPEG के इस वर्जन को बनाने में काफी एडवांस एल्गोरिथ्म का इस्तेमाल किया गया है जिसकी वजह से यह ऑडियो और वीडियो के फाइल को बहुत जल्दी कंप्रेस कर देता है। MPEG 4 में इस्तेमाल किए जाने वाले एल्गोरिथ्म MPEG 1 और MPEG 2 से ही लिए गए है। 

MPEG 7- MPEG 4 के बाद MPEG 7 को लांच किया गया था जिसका इस्तेमाल मल्टीमीडिया प्रोजेक्ट में किया गया। इसे “Multimedia Content Description Interface” के नाम से भी जाना जाता है। MPEG 7 का इस्तेमाल मल्टीमीडिया कंटेंट को कंज्यूम करने में आता है। इससे आप मल्टीमीडिया कंटेंट को आसानी से Search, Browse और Retrieve कर सकते हैं।

MPEG 21- MPEG 21 “MPEG” का सबसे एडवांस वर्जन है। आज के समय में मल्टीमीडिया के इस्तेमाल के लिए MPEG 21 को ज्यादा स्टैंडर्ड माना जाता है। MPEG 21 को “Multimedia Framework” और “ISO 21000” के नाम से भी जाना जाता है। MPEG 21 एक Open Standard based Framework है जिसका इस्तेमाल मल्टीमीडिया के लिए कोई भी कर सकता है।

MP4 क्या है? | MP4 full form in hindi

MP4 का इस्तेमाल वीडियो कंप्रेशन में किया जाता है। MP4 शब्द का निर्माण भी MPEG से हुआ है बिल्कुल उसी प्रकार से जिस प्रकार MP3 का हुआ था। MP4 में 4 का तात्पर्य लेयर 4 से है। यानी इसमें कंप्रेशन की चौथी लेयर का इस्तेमाल किया गया है। MP4 को Moving Picture Layer 4 से भी जानते हैं।

MP4 बड़े वीडियो और ऑडियो के फाइल को कंप्रेस करके छोटे वीडियो तथा ऑडियो फाइल में तब्दील कर सकता है बिना उसकी क्वालिटी को कोई नुकसान पहुंचाए। आज भी अधिकतम जगह पर MP4 को वीडियो कंप्रेशन के लिए इस्तेमाल किया जाता है। आज के समय में भी लोग MP4 Video Compression का इस्तेमाल करते है क्यूंकि इसे User Friendly बताया जाता है।

Conclusion 

MP3 और MP4 एक्सटेंशन है जिनका प्रयोग हम वीडियो और ऑडियो फाइल के कंप्रेशन के लिए करते हैं। इन एक्सटेंशंस की वजह से ही हमें काफी अच्छी क्वालिटी की वीडियो और ऑडियो फाइल देखने को मिलता है।

अगर इनके द्वारा हम वीडियो को कंप्रेस ना करें तो आपको एक वीडियो डाउनलोड करने में बहुत ज्यादे फ्री स्पेस की जरूरत पड़ेगी। ऐसे में इस तरह के टेक्निक हमारे मोबाइल के स्पेस को बचाते हैं जिसकी वजह से हम कम स्पेस में भी ज्यादा से ज्यादा वीडियो और ऑडियो फाइल को डाउनलोड करके रख सकें।

OPD क्या होती है?

यही वजह है कि हमने Mp3 ओर MP4 के ऊपर अपनाया आर्टिकल लिखा जिसमें हमने इनके बारे में विस्तृत रूप से बताया की MP3 MP4 Full Form क्या है? और इनका क्यों इस्तेमाल करते है?

आशा हैं! आपको हमारा आज का यह आर्टिकल पसंद आया होगा।

धन्यवाद,

MP3-MP4-का-फुल-फॉर्म-क्या-है
  • Save

Hey there, I am Deepak kumar, a Digital Entrepreneur from India. On the mission to help youngsters to build their career in Blogging. So I’m here to help you build and grow a successful money-making blog.

Leave a Comment

Share via
Copy link